यात्रा

यूँ भी तो
हो सकता है न 
कि ये यात्रा ही
हमारा घर हो....
 
और
 
कहीं भी पहुँचने की
सारी कोशिशें
ख़ुद तक पहुँचने की ही
कोशिश हो....
 
~~~*यायावर की आज की सुबह*